मार दिया गया युवा आदिवासी पत्रकार अमित तोपनो

झारखंड के डोरंडा थाना क्षेत्र में एक आदिवासी युवा पत्रकार अमित तोपनो की हत्या कर दी गई। डोरंडा थाना क्षेत्र के घाघरा में रविवार की सुबह एक युवक का शव मिला था. उसकी शिनाख्त खूंटी के तोरपा निवासी अमित तोपनो के रूप में हुई है. मृतक के दोस्तों और परिजनों ने उसकी शिनाख्त की है. मिली जानकारी के अनुसार अमित तोपनो पूर्व में एक न्यूज पोर्टल में पत्रकार रह चुका था. फिलहाल वह ओला कैब का ड्राइवर था. शनिवार की शाम से ही वह लापता हो गया था.

रविवार की सुबह करीब 8.30 बजे डोरंडा थाना क्षेत्र के घाघरा में शव मिलने के बाद स्थानीय लोगों ने इसकी जानकारी डोरंडा थाना की पुलिस को दी. काफी देर तक शव की शिनाख्त नहीं होने के कारण पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया था. बाद में मृतक के दोस्तों और परिजनों ने उसकी अमित तोपनो के रूप में शिनाख्त की. मृतक के परिजनों और दोस्तों ने आरोप लगाया है कि उसकी हत्या की गयी है.

डोरंडा थाना प्रभारी ने बताया कि शव को देखने से प्रथम दृष्टया हत्या का ही मामला लग रहा है. शव को पोस्टमॉर्टम के लिए रिम्स भेज दिया गया है. रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पायेगा कि किस चीज से हत्या की गयी है. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है. अमित तोपनो को साहस भरी रिपोर्टिंग के लिए जाना जाता था। अमित द्वारा पत्थलगड़ी आंदोलन में कई एक्सक्लूसिव वीडियो सामने लाए गए थे।

साभार

https://hindi.sabrangindia.in/

शेयर करे

Add new comment

8 + 5 =